Credits:Instagram

कबाड़ से लेकर क्रिकेट तक क्रिस गेल का सफर

Credits:Instagram/chrisgayle333

क्रिस गेल की गिनती दुनिया के महान खिलाड़ियों में होती है, उनका जीवन काफी उतार चढ़ाव से भरा रहा है।

Credits:Instagram/chrisgayle333

गेल धाकड़ बल्लेबाज हैं और  क्रिकेट जगत में उन्हें यूनिवर्स बॉस कहा जाता है।

Credits:Instagram/chrisgayle333

21 सितंबर 1979 को क्रिस गेल का जन्म जैमका के किंग्सटन में मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था।

Credits:Instagram/chrisgayle333

पूरी दुनिया में यूनिवर्स बॉस के नाम से लोकप्रिय गेल का पूरा नाम क्रिस्टोफर हेनरी गेल है

Credits:Instagram/chrisgayle333

गेल के पिता पूर्व पुलिसकर्मी और मां मूंगफलवी बेचती थीं, वह अपने छह भाई-बहनों  में पांचवें नंबर के हैं।

Credits:Instagram/chrisgayle333

मुश्किल वक्त में क्रिस गेल आर्थिक तंगी की वजह से कबाड़ बीनकर अपने परिवार का पेट पालते थे।

Credits:Instagram/chrisgayle333

गेल के परिवार का कोई भी सदस्य क्रिकेट से जुड़ा नहीं था लेकिन उनके दादा जी प्रथम श्रेणी क्रिकेटर रहे थे।

Credits:Instagram/chrisgayle333

जमैका में रहते हुए स्नातक की पढ़ाई के दौरान गेल ने लुका क्रिकेट क्लब को ज्वाइन किया और यहीं से उन्होंने अपने क्रिकेट सफर की शुरुआत की।

Credits:Instagram/chrisgayle333

1999 में क्रिस गेल ने भारत के खिलाफ वनडे डेब्यू किया था, हालाँकि उन्होंने पहले मैच में मात्र एक रन बनाया था।

Credits:Instagram/chrisgayle333

क्रिस गेल टेस्ट क्रिकेट में इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने पहली गेंद पर छक्का मारने का कारनामा किया।

Credits:Instagram/chrisgayle333

गेल से जुड़ी दिलचस्प बात यह है कि वह 333 नंबर को लकी मानते हैं और यही उनकी जर्सी का नंबर भी है।

क्रिस गेल का अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के अलावा विभिन्न टी 20 लीगों में भी खासतौर से जलवा रहा है।

Credits:Instagram/chrisgayle333
Credits:Instagram/chrisgayle333

गेल के नाम आईपीएल में सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड दर्ज है, उन्होंने यह कारनामा आरसीबी के लिए खेलते हुए किया था।