टॉप 10 स्पोर्ट्स स्टार जिनकी आत्मकथाएँ हैं प्रेरणादायक

Credits:Instagram
Credits:Instagram/divyamkharey

प्लेइंग इट माई वे-  यह क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर की आत्मकथा है, सचिन विश्व के एक मात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने 100 शतक जड़े। 

Credits:Instagram/thebookitch

द ग्रेटेस्ट:माई ओन स्टोरी- ये महान बॉक्सर मुहम्मद अली की आत्मकथा है, मोहम्मद अली तीन बार वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियन बने थे।

Credits:Instagram/pele

वाय सॉकर मैटर्स- यह ब्राजील के महान फुटबॉलर  पेले की आत्मकथा है, पेले के नाम कई बड़े रिकॉर्ड दर्ज हैं।

Credits:Instagram/therealkapildev

स्ट्रेट फ्रॉम हार्ट- यह भारत को 1983 में पहला क्रिकेट विश्व कप जिताने वाले कप्तान कपिल देव की आत्मकथा है।

Credits:Instagram/milkhasingh.club

द रेस ऑफ माय लाइफ - ये फ्लाइंग सिख के नाम से  मशहूर रहे मिल्खा सिंह की आत्मकथा है जो हर किसी के लिए प्रेरणा है।

Credits:Instagram/mcmary.kom

अनब्रेकेबल- यह भारतीय मुक्केबाज मैरी कॉम की आत्मकथा है, मैरी कॉम 8 बार विश्व मुक्केबाजी प्रतियोगिता जीत चुकी हैं।

Credits:Instagram/p.t._usha_fan_page

द गोल्डन- भारतीय महिला धावक पीटी ऊषा की आत्मकथा भी प्रेरणाओं से भरी हुई है।

Credits:Instagram/nehwalsaina

प्लेइंग टू विन- यह बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल की आत्मकथा है, साइना ओलंपिक पदक जीतने वाली देश की पहली बैडमिंटन खिलाड़ी हैं

Credits:Instagram/mirzasaniar

एस अगेंस्ट ऑड्स- यह आत्मकथा भारत की दिग्गज  महिला टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा की है।

Credits:Instagram/gavaskarsunilofficial

सनी डेज- लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर  की आत्मकथा भी प्रेरणादायक है। गावस्कर टेस्ट में दस हजार रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज थे।